Kumar Sanu - Tham Ke Baras (Male Version) Lyrics in Hindi | Mere Mehboob

Tham Ke Baras (Male Version) Lyrics in Hindi - गाने को कुमार सानू ने गाया है । इस गाने इस गाने का लिरिक्स सतीश और बेताब लखनवी ने लिखे हैं और म्यूजिक राजकुमार और अमन श्लोक ने दिया है दिया है। थम के बरस ओ ज़रा थम के बरस गाना मेरे महबूब एल्बम से है।

Kumar Sanu - Tham Ke Baras (Male Version) Lyrics in Hindi | Mere Mehboob

Tham Ke Baras Song Credits

Song: Tham Ke Baras

Album: Mere Mehboob

Singer: Kumar Sanu

Lyrics: Satish Betab Lucknavi

Music: Raj Kumar & Aman Shlok

Tham Ke Baras Music Video Song 


Tham Ke Baras (Male Version) Lyrics in Hindi


 थम के बरस

ओ जरा थम के बरस के

थम के बरस

 ओ जरा थम के बरस

मेरा महबूब आने वाला है


थम के बरस

 ओ जरा थम के बरस

मेरा महबूब आने वाला है


दूर से आएगा

भीग जाएगा वो

थम के बरस

 ओ जरा थम के बरस

मेरा महबूब आने वाला है


माना  बरसने की रूत है तेरी

सावन मेरी गुज़ारिश है मेरी


यह माना बरसने की रुत है तेरी

 आए सावन मगर गुजारिश है मेरी


मुश्किल से आई

मिलन की घड़ी

चमक ले गरज ले

लगाना झड़ी

दिल पर मेरे खाके तरस

दिल पर मेरे खाके तरस

मेरा महबूब आने वाला है


दूर से आएगा

भीग जाएगा वो

थम के बरस 

ओ जरा थम के बरस

 मेरा महबूब आने वाला है


अभी तो हुई मुलाकात है

लबों पर दिलों की जमीन बात है

अभी तो हुई मुलाकात है

लबों पर दिलों की जमीन बात है


आंखों के दो-चार होने के दिन

कैसे बिताएगा  भीगा बदन


यूं ना बरस

अरे तू कर बहस

यूं ना बरस

अरे तू कर बहस

मेरा महबूब आने वाला है


दूर से आएगा 

भीग जाएगा वो

थम के बरस ओ

जरा थम के बरस 

मेरा महबूब आने वाला है


चाहत से वाकिफ है तो

अगर तू सुन

मेरी तरह

इश्क सनम तू भी चुन


पड़ेगा मोहब्बत से जब वास्ता

बादल तू बदलेगा खुद रास्ता

जा रे कहीं 

कहीं जम के बरस

यहां महबूब आने वाला है


थम के बरस 

ओ जरा थम के बरस 

मेरा महबूब आने वाला है

दूर से आएगा

भीग जाएगा वो

थम के बरस 

ओ जरा थम के बरस 

मेरा महबूब आने वाला है।


Lyrics writer: Satish Betab Lucknavi

For More Lyrics 

थम के बरस ( Female Voice)

> सावन में मोरनी बन के 

> नाम गुम जाएगा 

> रोई  ना - Ninja


Post a Comment

0 Comments